#onesidedlove Instagram Photos & Videos

onesidedlove - 112.9k posts

Top Posts

  • This is where my peace lies. ✌🏻 Caption :- Posting less.
Doing more.
Comparing less.
Reflecting more.
Complaining less.
Praying more.
Discussing less.
Accomplishing more.
  • This is where my peace lies. ✌🏻 Caption :- Posting less.
    Doing more.
    Comparing less.
    Reflecting more.
    Complaining less.
    Praying more.
    Discussing less.
    Accomplishing more.
  • 6,015 37 10 January, 2019

Latest Instagram Posts

  • Be powerful💪,be passionate ourselves 😎
U don't take a picture u make it 😄There r always two people in every picture, 1st photographer n 2nd viewer 😉
#editing #photography📷 #modeling #onesidedlove
  • Be powerful💪,be passionate ourselves 😎
    U don't take a picture u make it 😄There r always two people in every picture, 1st photographer n 2nd viewer 😉
    #editing #photography 📷 #modeling #onesidedlove
  • 11 0 5 hours ago
  • ठंड की रात और छत पर बैठना दोनों का मेल कुछ अटपटा सा लगता है। पर अजीब सी थोड़ी हूं ही मैं। कुछ चीजें क्यूं करती हूं, क्यूं नहीं करती इसका जवाब ही मेरे पास नहीं होता। कभी कभी ऐसा तूफ़ान जीवन में आता है कि सब का पास होना भी खलता है। सब की सांत्वना भी अच्छा सा नहीं लगता। कुछ अच्छा हो भी रहा हो तो उस पल नहीं खुश कर पा रहा होता है। आज दिल्ली अचानक बहुत याद आ रहा था। कभी ऐसे ही कोई दिन अगर मन में उथल पुथल चल रहा होता था तो सड़क का एक चक्कर अकेले कर आती थी। चाहे समय कुछ भी हो अगर घड़ी की सुई रात के 9 से पहले ही होती थी तो आजादी थी उन सड़क पर घूम आने का। अकेले उस सड़क पर चल कर बहुत अच्छा महसूस करवा देता है। पर आज कुछ ऐसा कर भी नहीं सकती थी। दिल कर रहा था कि भाग जाऊं कुछ देर के लिए। पर निकल भी नहीं सकती थी। फिर क्या एक छत ही मेरा सहारा था। वैसे आज तक अफ़सोस था कि ठंड नहीं पड़ी मेरे शहर में । आज कुछ घंटे रात में छत पर बैठ कर अंदाज़ा लगा लिया ठंड का भी। पर सच कहूं बहुत ज़्यादा सुकून दे गया अकेलापन में वो कुछ पल। ऐसा लगा मानो बस वह सारा जहां मेरा है। एक भी गाड़ी ना एक भी मनुष्य सड़क पर दिख रहा था। बस मैं वो धुंधला आसमान और एक चमकता हुआ चांद। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि चांद भी मेरे अंदर आए तूफ़ान से परिचित हो और मुझे सहानुभूति की नज़रों से देख रहा हो। कितना भी चाह ले कोई सच्चाई से नहीं भाग सकता तो मैं कौन सा अनोखी हूं। सब के बुलाने की आवाज़ आ रही थी फिर क्या जाना पड़ा अंदर फिर वही दुनिया में जहां सब थे और तूफ़ान का सामना दोनों ही करना था। - Nidhi ❤ (20-1-2019) (11:35pm) 
#instalike #instalove #instapost #instapicture #insta #instagood #instagram #instaedit #insta #instawriteup #instawritings #instagramwriters #writinginhindi #hindiwriters #onesidedlove #nidhiauthor #loveforhashtags #lotsofhashtags
  • ठंड की रात और छत पर बैठना दोनों का मेल कुछ अटपटा सा लगता है। पर अजीब सी थोड़ी हूं ही मैं। कुछ चीजें क्यूं करती हूं, क्यूं नहीं करती इसका जवाब ही मेरे पास नहीं होता। कभी कभी ऐसा तूफ़ान जीवन में आता है कि सब का पास होना भी खलता है। सब की सांत्वना भी अच्छा सा नहीं लगता। कुछ अच्छा हो भी रहा हो तो उस पल नहीं खुश कर पा रहा होता है। आज दिल्ली अचानक बहुत याद आ रहा था। कभी ऐसे ही कोई दिन अगर मन में उथल पुथल चल रहा होता था तो सड़क का एक चक्कर अकेले कर आती थी। चाहे समय कुछ भी हो अगर घड़ी की सुई रात के 9 से पहले ही होती थी तो आजादी थी उन सड़क पर घूम आने का। अकेले उस सड़क पर चल कर बहुत अच्छा महसूस करवा देता है। पर आज कुछ ऐसा कर भी नहीं सकती थी। दिल कर रहा था कि भाग जाऊं कुछ देर के लिए। पर निकल भी नहीं सकती थी। फिर क्या एक छत ही मेरा सहारा था। वैसे आज तक अफ़सोस था कि ठंड नहीं पड़ी मेरे शहर में । आज कुछ घंटे रात में छत पर बैठ कर अंदाज़ा लगा लिया ठंड का भी। पर सच कहूं बहुत ज़्यादा सुकून दे गया अकेलापन में वो कुछ पल। ऐसा लगा मानो बस वह सारा जहां मेरा है। एक भी गाड़ी ना एक भी मनुष्य सड़क पर दिख रहा था। बस मैं वो धुंधला आसमान और एक चमकता हुआ चांद। ऐसा प्रतीत हो रहा था कि चांद भी मेरे अंदर आए तूफ़ान से परिचित हो और मुझे सहानुभूति की नज़रों से देख रहा हो। कितना भी चाह ले कोई सच्चाई से नहीं भाग सकता तो मैं कौन सा अनोखी हूं। सब के बुलाने की आवाज़ आ रही थी फिर क्या जाना पड़ा अंदर फिर वही दुनिया में जहां सब थे और तूफ़ान का सामना दोनों ही करना था। - Nidhi ❤ (20-1-2019) (11:35pm)
    #instalike #instalove #instapost #instapicture #insta #instagood #instagram #instaedit #insta #instawriteup #instawritings #instagramwriters #writinginhindi #hindiwriters #onesidedlove #nidhiauthor #loveforhashtags #lotsofhashtags
  • 11 0 7 hours ago